केंद्रीय मंत्री अमित शाह के भाषण पर केटीआर का पलटवार, बोले- “जो मुंह में आया वह बोले तो बर्दाश्त नहीं करेंगे”

हैदराबाद: केंद्रीय मंत्री अमित शाह के भाषण पर आईटी मंत्री केटी रामाराव ने पलटवार किया है। केटीआर ने रविवार को मीडिया से कहा कि तेलंगाना के लोग अमित शाह की टिप्पणी पर विश्वास नहीं करते हैं। उन्होंने अमित शाह पर तेलंगाना के लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया है। पदों को बेचने वाली खुदरा पार्टी भाजपा है।

मंत्री केटीआर ने कहा कि भाजपा नेताओं की निजाम के उत्तराधिकारियों से ज्यादा बीजेपी के नेता निजाम को याद करते हैं। सवाल किया कि एक जिम्मेदार पद पर बैठे केंद्रीय गृहमंत्री क्या इतने झूठ बोलते हैं? हर एक भाजपा नेता अलग-अलग बोल रहे हैं। केटीआर ने चेतावनी दी है कि जो मुंह में आया वह बोले तो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि तेलंगाना द्वारा दिए गए पैसों से ही बीजेपी के राज्य जी रहे हैं।

केटीआर ने कहा कि बीजेपी के लोग कर्ज कर रहे हैं और हमें दोष दे रहे हैं। केंद्र ने 60 सालों में जो कर्ज किया था, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन आठ सालों में किया हैं। साथ ही सवाल किया कि क्या मिशन भगीरथ को केंद्र सरकार ने 25,000 करोड़ रुपये दिए है? नीति आयोग (NITI Aayog) कहने पर भी तेलंगाना को एक रुपया भी नहीं दिया है।

उन्होंने कहा कि तेलंगाना सरकार ने कर्ज लेकर कालेश्वरम, मिशन भगीरथ और काकतीय परियोजनाओं को बनाया है। पेट्रोल की दरें बढ़ाकर केंद्र सरकार ने लोगों से 26 लाख करोड़ रुपये वसूल किया है। केटीआर ने चेतावनी दी कि बीजेपी का खेल अब और ज्यादा दिन नहीं चलने वाले है।

आपको बता दें कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को बंडी संजय की प्रजा संकल्प पदयात्रा के समापन ‘चलो तुक्कुगुड़ा’ सभा को संबोधित किया। उन्होंने लोगों से कहा कि तेलंगाना से निजाम सरकार को बदलना है। बंडी संजय ने परिवर्तन संकल्प के लिए पदयात्रा की है।

अमित शाह ने कहा कि केसीआर को हटाने के लिए बंडी संजय काफी है। केसीआर की ओर इशारा करते हुए कहा कि तेलंगाना से नये निजाम को हटाने के लिए प्रजा संकल्प पदयात्रा किया है। इस निजाम मानसिक को बदलने की प्रजा संकल्प पदयात्रा है। निजाम की गोद में बैठे केसीआर को उखाड़ फेंकने के लिए पदयात्रा की गई है।

अमित शाह ने आगे कहा कि मैं चंद्रशेखर से कहना चाहता हूं कि वे कहते चुनाव जल्दी करा दो मैं कहता हूं कि चुनाव कल करा दो भाजपा इसके लिए तैयार है। भाजपा अपने विचारों को लेकर तेलंगाना की जनता के पास जाएगी। यह मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव तेलंगाना को बंगाल बनाना चाहता है। इसे अब रोकना होगा। हम सुनिश्चित करेंगे कि साईं गणेश के हत्यारों को कड़ी से कड़ी सज़ा दिलाई जाएगी। चंद्रशेखर राव जी सचिवालय में तो जाते नहीं हैं। इन्हें किसी तांत्रिक ने कहा है कि सचिवालय में गए तो आपकी सरकार चली जाएगी। चंद्रशेखर राव जी सुन लीजिए, सरकार जाने के लिए किसी तांत्रिक की जरूरत नहीं है, तेलंगाना का युवा आपकी सरकार को उखाड़कर फेंकने वाला है।

अमित ने तेलंगाना में जारी प्रजा संग्राम यात्रा को लेकर कहा कि यह यात्रा एक पार्टी को निकालकर दूसरी पार्टी को बिठाने की नहीं है। यह यात्रा किसी को सीएम बनाने की यात्रा नहीं है। यह यात्रा तेलंगाना के दलित, आदिवासी, पिछड़ों, किसान, महिलाओं और युवाओं के कल्याण की यात्रा है। यह यात्रा तेलंगाना के निजाम को बदलने की यात्रा है। इस प्रजा संग्राम यात्रा में तपती धूप के बीच करीब 760 किमी पैदल चलकर हमारे प्रदेश अध्यक्ष ने तेलंगाना की भूमि को पैदल नापा है। जब ये यात्रा पूरी होगी तब 2500 किमी की दूरी तय करेगी।

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि 2019 के चुनाव में तेलंगाना की जनता ने भाजपा को 4 सीटें दी है। 2 सीटें हम बहुत नजदीकी अंतर से हारे हैं। लेकिन उसके बाद हैदराबाद नगर निगम का चुनाव हुआ हो या 2 उपचुनाव हुए हों हर जगह पर आपने भाजपा को विजयी बनाया है। तेलंगाना का युवा केसीआर की सरकार को उखाड़ फेंकने वाला है। क्योंकि आपने वादा किया था कि हर बेरोजगार को बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। मगर ऐसा नहीं किया। आपने कहा था कि किसानों का कर्ज एक लाख रुपये तक माफ करेंगे। लेकिन किसी किसान को कर्ज माफ नहीं हुआ। मोदी जी ने तेलंगाना के विकास और लोगों के लिए अनेक काम किए हैं। तेलंगाना की चंद्रशेखर राव की सरकार मोदी जी की योजनाओं के नाम बदलने के अलावा कुछ नहीं करती है। टीआरएस की सरकार का निशान कार है। कार का स्टेयरिंग ड्राइवर के हाथ में या मालिक के हाथ में होता है। लेकिन टीआरएस की कार का स्टेयरिंग ओवैसी के हाथ में है। इस सरकार को बदलने के लिए हमने ये संघर्ष यात्रा लेकर निकले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X