About Us

हिन्दी भाषा में तेलुगुभाषी राज्यों के साथ साथ दक्षिण भारत की खबरें देने के लिए ‘तेलंगाना समाचार’ पोर्टल आपके सामने है। देश जब आजाद हुआ, तब तेलंगाना का इलाका निजाम शासन में था। देश आजादी की स्वाद ले रहा था, मगर तेलंगाना के लोग निजाम के खिलाफ लड़ रहे थे। आखिर लंबी लड़ाई के बाद तेलंगाना निजाम शासन से मुक्त हुआ। फिर भी पृथक तेलंगाना के लिए संघर्ष जारी रहा। इस संघर्ष में लगभग 1,200 लोगों ने बलिदान दिया।

लोगों की बलिदान की बदौलत पृथक तेलंगाना राज्य का गठन हो गया। मगर जिस लक्ष्य के लिए तेलंगाना के लोगों ने बलिदान दिया, वह लक्ष्य आज भी पूरा नहीं हुआ है। वह लक्ष्य है- निल्लु, निधुलु और नियमाकालु- अर्थात पानी, संपदा और नौकरियां। उस लक्ष्य के संघर्ष करने वालों का साथ देना और लक्ष्य पूर्ति के लिए काम करना ही तेलंगाना समाचार का उद्देश्य और लक्ष्य है।

हमें पता नहीं कि हम इतनी आसानी से तेलंगाना के लोगों की अपेक्षाओं और आकांक्षाओं को तेलंगाना समाचार साकार कर पायेंगे या नहीं। परंतु इसके लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। तेलंगाना समाचार आम लोगों की आवाज बनकर आपके बीच आ रहा है। सरकार के अच्छे कामों को लोगों तक पहुंचाने के साथ साथ और गलत फैसलों को जनता की अदालत में रखने की भरपूर कोशिश होगी

यह कहते हुए हमें बेहद प्रसन्नता हो रही है कि दक्षिण समाचार के संपादक मुनींद्र जी की प्रेरणा, वर्णाश्रम पत्रक के संपादक गंगाराम वानप्रस्थी जी के आशीर्वाद, डेली मिलाप के संपादक विनय वीर जी के साथ साथ अन्य साथियों की सीख, ‘साक्षी समाचार’ के कार्यकारी संपादकीय टीम के सहयोगी विजय कुमार तिवारी जी और अपने और अन्य सहयोगियों के कुशल सहयोग व प्रशिक्षण से ही तेलंगाना समाचार प्रकाशित हो रहा है। सीमित संसाधनों के जरिए बेहतर परफॉर्मेंस देने की पहल जारी रहेगी।

हमारा तेलंगाना के साथ-साथ आंध्र प्रदेश के साहित्यकार, पत्रकार, लेखक और आंदोलनकरियों से आग्रह है कि वो सरकार के अच्छे और गलत फैसलों के बारे में सारगर्भित रचनाएं फोटो के साथ (telanganasamachar1@gmail.com) भेजे। तेलंगाना समाचार आपका है। आपकी आवाज बनकर आपकी बात लोगों तक ले जाएगा।

-के. राजन्ना
संपादक- तेलंगाना समाचार
मो. 9492925120

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X