तेलंगाना में रेल परियोजनाओं पर किये 9,494 करोड़ रुपये खर्च: मंत्री किशन रेड्डी

हैदराबाद: केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी ने शुक्रवार को कहा कि केंद्र सरकार ने पिछले आठ साल में तेलंगाना में 12 नई बड़ी रेल परियोजनाओं पर करीब 9,494 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

मंत्री जी किशन रेड्डी ने मेदक-अक्कन्नापेट रेलवे स्टेशनों के बीच एक नई रेलवे लाइन के उद्घाटन कार्यक्रम में कहा कि भारतीय रेलवे सुरक्षा के मोर्चे पर कई उपाय कर रहा है। इसी के कारण दुर्घटनाओं की संख्या में कमी हो रही है। उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार 400 करोड़ रुपये के निवेश से वरंगल में एक रेलवे कोच ‘ओवरहालिंग’ (पूरी मरम्मत) वाली इकाई स्थापित करने पर विचार कर रहा है। इससे 3,000 लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है।

केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि पिछले आठ साल के दौरान तेलंगाना में 12 नई रेल परियोजनाएं शुरू की गई हैं। इस दौरान 9,494 करोड़ रुपये खर्च किए गए। तेलंगाना में कवच के तहत 43 रेलवे स्टेशनों का आधुनिकीकरण किया गया है। कवच एक अत्याधुनिक इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली है। इससे भारतीय रेलवे को दुर्घटनाओं को पूरी तरह से रोकने में मदद के लिए तैयार किया गया है।

संबंधित खबर:

आपको बता दें कि 2003 में रेलवे साधना समिति के नाम से स्थानीय लोगों ने आंदोलन शुरू किया। 2012-13 के रेल बजट में लागत बंटवारे के तहत रामायमपेटा मंडल से अक्कानापेट से मेदक तक एक ब्रॉड गेज रेलवे लाइन को मंजूरी दी गई थी। गत दिसम्बर में 20 करोड़ रुपये की धनराशि मंजूर की गई। इसके चलते आधुनिक सुविधाओं से युक्त मेदक रेलवे स्टेशन का निर्माण किया गया। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि काचीगुडा पैसेंजर ट्रेन इस स्टेशन से रोजाना सुबह पांच बजे शुरू होगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X