Cloudbuster: रेवंत रेड्डी बोले- केंद्र को सबूत दें और किशन रेड्डी ने कहा, केंद्र सरकार हैं गंभीर”

हैदराबाद: इस समय केवल तेलंगाना (Telangana) में ही नहीं पूरे देश में बादल फटने (cloudbuster) की केसीआर की टिप्पणी को लेकर बवाल मचा है। इस पर केंद्र भी सरकार गंभीर हुई है। केसीआर ने रविवार को बाढ़ग्रस्त इलाके दौरे के दौरान कहा कि भारी बारिश के पीछे विदेशी साजिश है। साजिश के तहत ही बादल फटा है। केसीआर (KCR) की इस टिप्पणी को टीपीसीसी के अध्यक्ष और मलकाजगिरी के सांसद रेवंत रेड्डी ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने केंद्र सरकार से मांग की कि सीएम केसीआर की बादल फटने के कारण बाढ़ आने की टिप्पणी पर जांच की जानी चाहिए।

साथ ही कहा कि यदि केसीआर के पास बादल फटने के सबूत हैं तो केंद्रीय खुफिया एजेंसियों को दें। इसी क्रम में केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी ने भी सीएम केसीआर की बादल फटने वाली टिप्पणी पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। अगर बादल फटना सच है तो इसकी गंभीरता से जांच की जाएगी। मुख्यमंत्री पद बैठे केसीआर की ओर से लगाये आरोपों पर केंद्र सरकार गंभीरता से विचार कर रही है।

रेवंत रेड्डी ने भारी बारिश और बाढ़ पीड़ितों पर ध्यान नहीं देने के लिए सीएम केसीआर की आलोचना की। साथ ही आरोप लगाया कि केसीआर ने तेलंगाना में बारिश और बाढ़ के बावजूद दस दिन तक राष्ट्रीय राजनीति और पार्टी विस्तार पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के दबाव के कारण ही सीएम केसीआर कैंप कार्यालय से बाहर आये हैं। मगर उन्होंने किसानों की मदद के लिए कोई घोषणा नहीं की है।

संबंधित खबर:

रेवंत रेड्डी ने कहा कि अब केसीआर को केंद्र सरकार को फसल की क्षति और संपत्ति के नुकसान की रिपोर्ट देकर दो-तीन हजार करोड़ की सहायता प्राप्त करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि लाखों करोड़ों रूपये से बनाया गया कालेश्वरम परियोजना पूरी तरह से डूब गया है। इससे बचने और लोगों को गुमराह करने के लिए केसीआर अब बादल फटने की बात कर रहे हैं।

रेवंत रेड्डी ने आगे कहा कि भारी बारिश और गोदावरी नदी में भयंकर बाढ़ आने पर भी सीएम केसीआर ने तीन दिन तक ध्यान नहीं दिया है। रेवंत ने मांग की कि बाढ़ आने/बादल फटने के पीछ विदेशी साजिश की बात कहने वाले सीएम केसीआर को केंद्र सरकार को सबूत देना चाहिए। साथ ही मांग की कि अगर सबूत नहीं देते है तो केसीआर को केंद्र सरकार तुरंत गिरफ्तार करके पूछा जाये कि विदेश साजिश की बात उन्हें कैसे और कहां से मिले हैं। इसके सबूत पूछा जाये।

दूसरी ओर केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी ने सीएम केसीआर की बादल फटने वाली टिप्पणी पर प्रतिक्रिया दी है। अगर बादल फटना सच है तो इसकी गंभीरता से जांच की जाएगी। मुख्यमंत्री पद बैठे केसीआर की ओर से लगाये आरोपों पर केंद्र सरकार गंभीरता से विचार कर रही है। उन्होंने स्पष्ट किया कि अगर केसीआर तेलंगाना और एपी में गोदावरी, लद्दाख और उत्तराखंड में बाढ़ से संबंधित विदेशी साजिशों के बारे में सबूत देते हैं, तो उनकी गंभीरता से जांच की जाएगी। केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी ने ट्विटर पर यह टिप्पणी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X