क्रिएटिव को सलाम: मूसी नदी में मत्स्य कन्या, वीडियो वायरल (Video)

हैदराबाद: हाल ही में हुई भारी बारिश के कारण मूसी नदी उफान पर थी। भाग्यनगर को पीने का पानी उपलब्ध कराने वाले जलाशय भर गये थे। अधिकारियों ने हिमातय सागर और उस्मानसागर जलाशय के गेट उठाकर पानी को नीचे की ओर छोड़ दिया। मूसी नदी के किनारों की बस्तियां जलमग्न हो गये। शहरवासियों को गंभीर कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। बाढ़ का पानी मुसारामबाग पुल से ऊपर बहता गया। बाढ़ का प्रवाह खतरनाक होने के कारण मुसारामबाग और चादरघाट पुलों को बंद कर दिया गया। बाढ़ कम होने के साथ ही अब सामान्य स्थिति बन गई है।

इन बाढ़ के दौरान मूसी नदी में ‘मत्स्य कन्या’ का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया पर ऐसे वीडियो वायरल हो रहा है कि जैसे मूसी नदी के किनारे एक चट्टान पर बैठी एक अजीबोगरीब आकृति (मत्स्य कन्या) अर्थात मछली आकार की युवती कुछ देर तक हलचल करती दिखती और इसके बाद चट्टानों (पत्थरों) से कूदकर भाग गई। इसी तरह की एक और आकृति वीडियो में देखी जा सकती है।

कृष्णमूर्ति नाम के एक पत्रकार ने इस वीडियो को पोस्ट किया और कहा कि हो सकता यह एक नकली वीडियो है। उन्होंने इसे जेम्स ऑफ व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी कहते हुए व्यंग्य किया है। उन्होंने कहा कि ऐसे लगता है कि किसी ने इस वीडियो को बनाकर सोशल मीडिया में पोस्ट किया है। लेकिन गौर करने वाली बात है कि इस वीडियो ने इतने सारे जलपरियों को अपने कैमरे में कैद कर लिया है। नेटिज़न्स का मानना ​​है कि किसी ने भी सोशल मीडिया पर वायरल करने के इरादे से इस वीडियो को बनाया है। इसके लिए उसने अपनी सारी प्रतिभा का इस्तेमाल किया है।

मत्स्य कन्याएं है या नहीं इस मुद्दे को छोड़ देते है। इसी तरह 2021 मार्च को हैदराबाद के पेट्लबुर्जु प्रसूति अस्पताल में मत्स्य कन्या की तरह दो पैर एक साथ जुड़े एक शिशु का जन्म हुआ था। मगर पैदा होने के दो घंटे बाद ही उसकी मौत हो गई। इस तरह पैदा होने बच्चे को मरमेड सिंड्रोम या सायरेनोमेलिया कहा जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X