आंध्र प्रदेश: निजी अस्पताल में भीषण आग, डॉक्टर और उनके दो बच्चों की दर्दनाक मौत, बाल-बाल बचे पत्नी और मां

हैदराबाद: आंध्र प्रदेश के तिरुपति जिले के रेणिगुंटा स्थित बिस्मिल्लाह नगर में राजराजेश्वरी मंदिर के सामने एक निजी अस्पताल में भीषण आग लग गई। इस अग्नि दुर्घटना में डॉ रविशंकर रेड्डी और उनके दो बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई। हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और दमकल टीम ने डॉक्टर की पत्नी और मां को बचा लिया। हादसे में डॉक्टर रविशंकर उनके बच्चे- सिद्धार्थ रेड्डी और कार्तिका की मौत हो गई।

स्थानीय लोगों का कहना है कि आग सुबह करीब चार बजे लगी। स्थानीय लोगों ने यह भी बताया है कि रेडियोलॉजिस्ट डॉ रविशंकर रेड्डी, उनकी पत्नी फिजियो और डायबिटीज स्पेशलिस्ट डॉ अनंतलक्ष्मी बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर कार्तिका नामक अस्पताल चलाते हैं और दूसरी मंजिल पर रहते हैं। सुबह करीब चार बजे स्थानीय लोगों से सूचना मिलने के बाद पुलिस और दमकल कर्मियों ने बचाव कार्य शुरू किया।

डॉ रविशंकर रेड्डी, उनकी पत्नी अनंतलक्ष्मी, बच्चे सिद्धार्थ रेड्डी (12), कार्तिका (15) और डॉक्टर की मां आग की चपेट में आ गये। उन्हें बचाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद रेस्क्यू टीम ने दोनों बच्चों को बाहर निकाला। 108 में बच्चों को अस्पताल ले जाया गया। मगर कोई फायदा नहीं हुआ। डॉक्टरों ने बताया कि इलाज शुरू करने के कुछ देर बाद ही दोनों बच्चों की मौत हो गई।

रेस्क्यू टीम ने डॉक्टर की पत्नी अनंत लक्ष्मी के साथ डॉक्टर की मां को बचा लिया। पुलिस ने बताया कि दोनों मामूली रूप से घायल हो गये हैं। उन्होंने कहा कि हादसे में डॉ रविशंकर रेड्डी की भी मौत हो गई। पुलिस को अंदेशा है कि हादसा शार्ट सर्किट के कारण आग लगी है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Recent Comments

    Archives

    Categories

    Meta

    'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

    X