YSRCP: ड्राइवर सुब्रह्मण्यम के हत्या मामले में आरोपी एमएलसी अनंत बाबू पार्टी से निलंबित

हैदराबाद: वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने आंध्र प्रदेश में हड़कंप मचा देने वाले ड्राइवर सुब्रह्मण्यम के हत्या मामले में आरोपी एमएलसी अनंत बाबू के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की है। एमएलसी को पार्टी से निलंबित कर दिया है। इस संबंध में एक बयान जारी किया गया है। अनंत बाबू को पुलिस पहले ही ड्राइवर हत्या के मामले में गिरफ्तार कर चुकी है। कोर्ट ने न्यायिक अनंत बाबू को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। पुलिस ने उसे राजमंड्री जेल भेज दिया है। विपक्षी दल पिछले दो दिनों से अनंत बाबू को पार्टी से निलंबित करने की मांग कर रहे थे।

इससे पहले एसपी रवींद्रनाथ बाबू ने सुब्रह्मण्यम की हत्या की रात को क्या हुआ इसकी पूरी जानकारी दी। एसपी ने कहा, “सुब्रह्मण्यम गुरुवार रात 8 बजे दोस्तों के साथ बाहर गया था। वो सभी एक स्कूल के पास बैठकर शराब पीये। 10.30 बजे एमएलसी अनंत बाबू वहां गये। सुब्रह्मण्यम से बात की और कार में बिठाकर ले गया। दोनों जन्मभूमि पार्क इलाके में टिफिन किये। बाद में दोनों अनंतबाबू के घर गये। अनंत बाबू ने वहां सुब्रह्मण्यम के सात कुछ देर बातचीत की।”

पुलिस अधीक्षक ने बताया, “सुब्रह्मण्यम की शादी के लिए पैसे देने के मुद्दे पर चर्चा की। एमएलसी अनंत बाबू को सुब्रह्मण्यम 25 हजार रुपये देना बाकी है। एमएलसी से पूछा कि रकम कब दोगे। साथ ही कहा कि शराब बहुत पी रहा है। अपना व्यवहार बदलने की सलाह दी। अगर व्यवहार बदलता है तो वह फिर से ड्राइवर के रूप में काम पर लेगा। जब अनंत बाबू ने सलाह दी कि वह शराब क्यों पी रहा है? इस सलाह सुनकर सुब्रह्मण्यम एमएलसी पर भड़क उठा। इस दौरान अनंत बाबू को धक्का दिया। इसके चलते वह तटबंध पर गिर गया। सुब्रह्मण्यम ने एमलसी को एक फिर से धक्का दिया। वह फिर से नीचे गया। उसके बाद दोनों के बीच झगड़ा हो गया। सुब्रह्मण्यम लोहे की सलाखों पर गिर गया। इस हाथापाई में सुब्रह्मण्यम के सिर को गंभीर चोट लग गई। अनंत बाबू ने तुरंत उसे कार से अस्पताल ले गया। अनंत बाबू ने सुब्रह्मण्यम को उचकिया आते देख उसे पानी पिलाया। पूकारे जाने पर भी जवाब नहीं आया। पीछे मुड़कर देखा तो उसकी सांस बंद थी।”

पुलिस अधीक्षक ने आगे बताया, “इसके बाद एमएलसी अनंत बाबू ने ड्राइवर के परिवार को फोन किया और बताया कि सड़क हादसा हुआ है। हादसे में सुब्रह्मण्यम की मौत हो गई। तत्पश्चात एमएलसी अनंत बाबू शव को लेकर उसके घर गया। शव को देखने के बाद मृतक के परिजनों को शक हुआ। एमएलसी के साथ बड़ी बहस की। कहा कि वे थाने में शिकायत करेंगे। शिकायत दर्ज करने के बाद मामला दर्ज किया गया। एमएलसी अनंत बाबू को हिरासत में ले लिया गया और पूछताछ की गई और उनका बयान भी दर्ज किया है। अनंत बाबू ने पुलिस को यह विश्वास दिलाने की कोशिश की सुब्रह्मण्यम सड़क दुर्घटना में घायल हो गया। मगर पकड़ा गया। हिरासत में लेकर पूछताछ करने के बाद अनंत बाबू ने हत्या की बात कबूल कर ली।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X