गांधी अस्पताल: रोगी की सहायता के लिए आई दो बहनें, मौका मिलते ही लैब टेक्नीशियन ने किया दुष्कर्म

हैदराबाद: गांधी अस्पताल में दो बहनों के साथ सामूहिक दुष्कर्म किये जाने का मामला विलंब से प्रकाश में आया है। मरीज की मदद के लिए आई दोनों बहनों को नशीला पदार्थ खिलाकर/मिलाकर दुष्कर्म किया गया।

पुलिस के अनुसार, महबूबनगर जिले के वेपुरीगेरी निवासी और किडनी बीमारी से पीड़ित एक व्यक्ति इस महीने की 4 तारीख को हैदराबाद के गांधी अस्पताल में भर्ती हुआ। उसकी सहायता के लिए पत्नी और पत्नी की छोटी बहन आई। मरीज को एक अलग वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया। दोनों बहनों को इस बात का पता नहीं चल पाया कि रोगी को किस वार्ड में स्थानांतरित किया गया। इसके चलते दोनों बहनें अस्पताल में भटक गये।

दोनों बहनों को अस्पताल के एक कमरे में बंद

उसी समय लैब टेक्नीशियन उमामहेश्वर ने उन्हें आश्वस्त किया कि रोगी का वार्ड दिखाएगा। उसने दोनों बहनों को अपने साथ ले गया और अस्पताल के एक कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद उसने नशीला पदार्थ खिलाकर दोनों के साथ कई बार दुष्कर्म किया। होश में आने के बाद एक महिला वहां से भाग खड़ी हुई। पीड़ित महिला ने इस घटना के बारे में चिलकलगुड़ा थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

बड़ी बहन का अता-पता नहीं

दर्ज शिकायत में पीड़िता ने कहा कि लैब टेक्नीशियन उमामहेश्वर नाम व्यक्ति ने उसके साथ चार बार दुषर्क किया है। मगर मेरी बड़ी का अब तक कहीं पर भी अता-पता नहीं चल पाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। फिर भी इस मामले को लेकर कई संदेह हैं। गांधी अस्पताल में इतने दिन पहले हुए दुष्कर्म मामला इतने दिनों बाद तक प्रकाश में क्यों नहीं आया है। इस मामले पर अनेक संदेह व्यक्त कियाेजा रहे हैं।

जांच में तेजी

पुलिस ने गांधी अस्पताल में दुष्कर्म की घटना की जांच में तेज कर दी है। लैब टेक्नीशियन उमामहेश्वर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जबकि एक सुरक्षा गार्ड फरार है। पुलिस ने संदेह व्यक्त किया है कि उमामहेश्वर के साथ एक सुरक्षा गार्ड ने मिलकर दोनों बहनों के साथ दुष्कर्म किया है। फरार सुरक्षा गार्ड को पकड़ने की मुहिम तेज कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X