तेलंगाना हाई कोर्ट के लिए सात नये जज, सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने की केंद्र से सिफारिश

हैदराबाद : तेलंगाना हाई कोर्ट में सात और जज आ रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम (Supreme Court Collegium) ने न्यायिक सेवा से तेलंगाना उच्च न्यायालय के लिए सात नये न्यायाधीशों के नामों की सिफारिश की है। जस्टिस एनवी रमणा, जस्टिस यूयू ललित और न्यायमूर्ति एएम खानविलकर की अध्यक्षता वाले कॉलेजियम ने मंगलवार को यह फैसला लिया। सीजेआई जस्टिस एनवी रमणा ने पिछले जून में जजों की संख्या 24 से बढ़ाकर 42 करने की पहल की थी।

तेलंगाना में रिक्तियों की संख्या को देखते हुए इन नई नियुक्तियों की सिफारिश की गई है। वर्तमान मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति हिमा कोहली सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश बनने जा रही हैं। न्यायमूर्ति चल्ला कोडंदरम की हाल की सेवानिवृत्ति हो गये। न्यायमूर्ति केशवराव के निधन हो जाने से तेलंगाना में न्यायाधीशों की संख्या 11 हो गई है।

इस बात को ध्यान में रखते हुए कॉलेजियम ने सात जजों को पदोन्नत करने का फैसला किया है और केंद्र सरकार को नये नामों की सिफारिश की है। इनमें चार महिलाएं हैं। अगर केंद्र सरकार न्यायाधीशों की नियुक्ति को मंजूरी देती है, तो तेलंगाना उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की संख्या बढ़कर 18 हो जाएगी। फिर भी 24 पद अब खाली रहेंगे।

तेलंगाना उच्च न्यायालय को आवंटित 42 पदों में 28 का चयन वकीलों से और शेष 14 का राज्य न्यायिक सेवाओं से होने की संभावना है। वर्तमान में तेलंगाना उच्च न्यायालय में 2,48,267 मामले लंबित हैं। इनमें से 2,11,927 दीवानी मामले और अन्य 36,340 आपराधिक मामले हैं।

कोलिज़ीयम की ओर से सिफारिश किये गये नाम इस प्रकार हैं-

पी श्रीसुधा- मुख्य न्यायाधीश, सिटी सिविल कोर्ट, हैदराबाद
सी सुमलता- निदेशक, न्यायिक अकादमी, हैदराबाद
डॉ जी राधारानी- अध्यक्ष, तेलंगाना वैट ट्रिब्यूनल, हैदराबाद
पी माधवी देवी- न्यायिक सदस्य, आईटी अपीलीय न्यायाधिकरण, हैदराबाद
एम लक्ष्मण- जिले के मुख्य न्यायाधीश, खम्मम
एन तुकारामजी- मेट्रोपॉलिटन सत्र न्यायाधीश, हैदराबाद
ए वेंकटेश्वर रेड्डी- रजिस्ट्रार जनरल, तेलंगाना उच्च न्यायालय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X