‘गुलाब’ चक्रवात का उग्र रूप, तेजी से बढ़ रहा है आगे, यहां करेगा तट को पार

हैदराबाद/अमरावती: बंगाल की खाड़ी में बना गुलाब चक्रवात कलिंगपट्टणम से लगभग 440 किमी उत्तर पूर्व में केंद्रित है। तेजी से उत्तरांध्रा की ओर आगे बढ़ रहा है। पाकिस्तान ने इसका नाम ‘गुलाब’ रखा है।

मौसम विभाग ने कहा कि इसके रविवार शाम को गोपालपुर-कलिंगपट्टणम के बीच तट को पार करने की संभावना है। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, विजयनगरम और विशाखापट्टणम जिलों में भारी बारिश होगी। जबकि बाकी तटीय जिलों में मध्यम से लेकर भारी बारिश होने की संभावना है।

तूफान के कारण अगले 24 घंटों में ओडिशा, उत्तरांचल, दोनों गोदावरी जिले, दक्षिण तटीय जिलों के साथ-साथ तेलंगाना, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में भारी बारिश की संभावना है। मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवात के प्रभाव से तेलंगाना में रविवार और सोमवार को भारी से बहुत भारी बारिश होने के संकेत हैं।

अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक कई जगहों पर भारी बारिश हुई। हैदराबाद शहर में भारी बारिश से अनेक प्रांत जलमग्न हो गये। यातायात ठप्प रहा है। लोगों को घरों को जाने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

उन्होंने यह भी बताया कि भद्राद्री कोत्तागुडेम जिले के गुंडाला मंडल मामकन्नू गांव में केवल 12 घंटों में अधिकतम 12.3 सेमी बारिश हुई। पोचमपल्ली (करीमनगर) में 6.3 सेमी, कुनारम (पेद्दापल्ली) में 6 सेमी, अवनूर (सिरिसिल्लला) में 6 सेमी और संगारेड्डी में 5 सेमी बारिश हुई। मौसम विभाग ने अधिकारियों को सतर्क रहने की चेतावनी दी है। हैदराबाद सहित कई जिलों में दिनों तक भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। प्रशासन ने लोगों को मकानों से बाहर नहीं आने की चेतावनी दी है।

दूसरी ओर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने अधिकारियों के साथ गुलाब तूफान की समीक्षा की। साथ ही हालात से निपटने के लिए आवश्यक कदम उठाने के आदेश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X