बंडी संजय की पदयात्रा को लेकर तेलंगाना में तनाव, बीजेपी कार्यकर्ताओं ने किया आंदोलन, लाठीचार्ज, गिरफ्तार

हैदराबाद: तेलंगाना भाजपा के अध्यक्ष बंडी संजय के नेतृत्व में सोमवार से शुरू होने वाली पांचवें चरण की प्रजा संग्राम यात्रा को पुलिस ने एक बड़ा झटका दिया है। निर्मल जिले के भैंसा में शुरू होने वाली प्रजा संग्राम यात्रा को पुलिस ने अनुमति देने से इनकार कर दिया है। निर्मल जिला पुलिस ने कहा कि बीजेपी द्वारा मांगे गए रूट मैप के लिए अनुमति देना मुश्किल है। लेकिन बीजेपी ने वैकल्पिक रूट देने मांगा की।

हालांकि, इससे पहले संजय की चौथे चरण के वरंगल में तनावपूर्ण स्थिति उत्पन्न हो गई थी। इसीलिए पुलिस ने स्पष्ट किया कि पदयात्रा की अनुमति नहीं दी जा सकती है। इसी क्रम में महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीश को जो पदयात्रा में भाग लेने के लिए निर्मल आये थे, वापस भेज दिया है।

पुलिस का कहना है कि निर्मल के भैंसा इलाके में साम्प्रदायिक झड़प की आशंका है। इसके चलते बंडी संजय की पदयात्रा की अनुमति देना संभव नहीं है। इसी बीच रात को बंडी संजय पदयात्रा के लिए निर्मल जाने के लिए रवाना हुए। मगर पुलिस ने संजय को बीच में ही रोक दिया और वापस भेज दिया। इसके चलते रात भर तेलंगान में बीजेपी कार्यकर्ता आंदोलन पर उतर आये। सरकार के विरोध में नारे लगाये और मुख्यमंत्री केसीआर का पुतल जलाया। इस दौरान पुलिस और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई। अनेक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। बंडी संजय ने कहा कि सोमवार को भैंसा में पदयात्रा और आमसभा हर हाल में होके रहेगी।

आपको बता दें कि बंडी संजय पहले ही प्रजा संग्राम यात्रा के चार चरण पूरे कर चुके हैं। अब पांचवें चरण पदयात्रा का रूट मैप भी तैयार किया गया। इसी के अंतर्गत 28 नवंबर से शुरू पदयात्रा शुरू करने का फैसला किया और एक उपयुक्त रूट मैप तैयार किया। रूट मैप के अनुसार भैंसा से करीमनगर तक पांचवें चरण की पदयात्रा जारी रहेगी। पदयात्रा को 13 या 15 दिसंबर को करीमनगर में एक विशाल जनसभा के साथ समाप्त करने की योजना है। इसकी सभी तैयारियां भी की गई।

लेकिन अब अप्रत्याशित रूप से पुलिस ने अनुमति नहीं दी। अब पदयात्रा होगी या नहीं हर तरफ उत्साह है। रविवार रात को करीमनगर लौट जाते समय बंडी संजय ने कहा कि कोर्ट की अनुमति लेकर भैंसा में पदयात्रा करेंगे। बीजेपी नेताओं का कहना है कि पदयात्रा के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर किया जाएगा। विश्वास व्यक्त किया पदयात्रा की अनुमति मिल जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X