भद्राद्री सीतारामस्वामी मंदिर को दुर्लभ उपहार भेंट, मंदिर की स्थापना के बाद से नहीं मिला इतना बड़ा दान

हैदराबाद : तेलंगाना के भद्राचलम मंदिर में बसे सीतारामस्वामी को एक भक्त ने दुर्लभ उपहार भेंट किया है। भक्त ने सीता माता को सोने के कवच के साथ साड़ी और भगवान श्रीराम को सोने की पादुकाएं भेंट में दी है। भद्राचलम सीतारामस्वामी मंदिर के बारे में सभी जानते हैं।

गौरतलब है कि हर साल श्री रामनवमी के दिन भद्राद्री में सीता माता और श्रीराम का विवाह भव्य रूप से मनाया जाता है। ऐसे भगवान श्रीराम और सीता माता को कर्नाटक के एक भक्त ने दुर्लभ उपहार दिया है।

कर्नाटक के बेंगलुरु निवासी जेवी रंगराजू और उनकी पत्नी ने भद्राद्री मंदिर में परिवार के सदस्यों के साथ दर्शन किये और लगभग 13.50 किलोग्राम सोने के कवच के साथ स्वर्ण की साड़ी और भगवान श्रीराम को सोने की दो पादुकाएं भेंट किये।

मंदिर के अधिकारियों ने बताया कि अब से हर शुक्रवार को भद्राद्री सीतारामास्वामी मंदिर में श्रद्धालुओं को स्वर्ण कवच के साथ भगवान श्रीराम और सीता माता के दर्शन कराये जाएंगे।

उन्होंने आगे कहा कि भद्राद्री मंदिर की स्थापना के बाद से किसी भक्त ने इतना बड़ा दान नहीं दिया है। यह पहला मौका है जब किसी भक्त ने इतनी बड़ी मात्रा में सोने के उपहार दिया है। इस अवसर पर मंदिर के पुजारियों का कहना है कि यह एक इतिहास भेंट हैं, इसे कभी भूला नहीं जा सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X