चार लोगों के हाथ में तेलंगाना के चार करोड़ बन गये बंदी: रेवंत रेड्डी

हैदराबाद : तेलंगाना पीसीसी के नये अध्यक्ष रेवंत रेड्डी ने कहा कि तेलंगाना देने वाली श्रीमती सोनिया गांधी के कर्ज चुकाने की जिम्मेदारी तेलंगाना के चार करोड़ लोगों पर है। पृथक तेलंगाना गठन के बाद मुख्यमंत्री केसीआर का परिवार ही धनवान बन गया है। रेवंत रेड्डी ने बुधवार को गांधी भवन में तेलंगाना पीसीसी अध्यक्ष पदभार ग्रहण करने के बाद यह बात कही।

रेवंत रेड्डी आगे कहा कि कुछ लोगों ने सुझाव दिया कि प्रशांत किशोर (पीके) को तेलंगाना कांग्रेस की जीत के लिए रणनीतिकार नियुक्त किया जाना चाहिए। उन्होंने टिप्पणी की कि उन्हें पीके जैसे लोगों की जरूरत नहीं है। पार्टी के लिए काम करने वाले सभी कार्यकर्ता पीके है। हर कांग्रेस के कार्यकर्ता को यह सोचना चाहिए कि आने वाले चुनाव में टीआरएस को सत्ता से हटाया जाये। हर कार्यकर्ता को गांव-गांव में जाकर लोगों को बताना चाहिए कि सोनिया गांधी ने तेलंगाना दिया है। साथ ही कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि प्रदेश में केसीआर और केंद्र में मोदी को सत्ता से हटाया जाये। देश में कांग्रेस का नेतृत्व करने के लिए राहुल गांधी तैयार हैं।

टीपीसीसी अध्यक्ष ने कहा, “तेलंगाना के चार करोड़ लोगों की अपेक्षा और आकांक्षाओं को ध्यान में रखते हुए श्रीमती सोनिया गांधी ने मुझे यह जिम्मेदारी सौंपी है। चार लोगों के हाथ में तेलंगाना के चार करोड़ लोग बंदी बन गये हैं। आंध्र प्रदेश में कांग्रेस करारी हार के संकेत मिलने के बावजूद सोनिया ने पृथक तेलंगाना दिया है। ऐसे महान सोनिया गांधी के प्रति हमें आभार व्यक्त करने की आज आवश्यकता है।”

रेवंत ने यह भी कहा, “सोनिया गांधी तेलंगाना की मां है। सोनिया मां ने तेलंगाना दिया है। ऐसे उत्तम सोनिया का चार करोड़ लोग अपने-अपने मकानों में मंदिर बनवा लेना चाहिए। इस संदेश को कार्यकर्ता हर घर में ले जाये। प्रशांत किशोर को रणनीतिकार नियुक्त कर लेने की सलाह दे रहे है। यह बात ठीक है। मगर हमारे पास एक से बढ़कर एक कार्यकर्ता ही पीके है। हर कार्यकर्ता को दो साल के लिए परिवार को छुट्टी लगा देना चाहिए। प्रदेश और देश के कल्याण के लिए संघर्ष करने की परिवार से अनुमति ले लेनी चाहिए।”

इस पदभार ग्रहण कार्यक्रम में असंतोष नेता कोमटिरेड्डी ब्रदर्स वेंकट रेड्डी, राजगोपाल रेड्डी, वीएस हनुमंत राव और अन्य गांधी भवन पहुंचे। इस बीच रेव रेड्डी के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान कुछ कार्यकर्ताओं ने कन्वेंशन हॉल में जबरन प्रवेश किया। बैरिकेड्स तोड़ दिये और कुर्सियां को इधर-उधर फेंक दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X