GAP: राज्यपाल तमिलिसाई और CM KCR ने किया अलग-अलग गोदावरी नदी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा (वीडियो)

हैदराबाद: राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव अलग-अलग मार्ग से भद्राद्री कोतागुडेम जिले के गोदावरी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। इस दौरान प्रशासन ने बड़े पैमाने पर बंदोबस्त किया।

इसी क्रम में राज्यपाल तमिलिसाई ने अश्वापुरम गांव स्थित एसकेटी फंक्शन हॉल के पुनर्वास केंद्र का दौरा किया। बाढ़ पीड़ितों को, बच्चों को बिस्कुट और स्वास्थ्य किट बांटे। इस दौरान राज्यपाल ने विशेष रूप से बाढ़ पीड़ितों से बात की।

इस दौरान स्थानीय लोगों ने राज्यपाल द्वारा अधिकारियों से बात किये जाने पर नाराज व्यक्त की। इसके चलते बाढ़ पीड़ितों की ओर से राज्यपाल को विरोध का सामना करना पड़ा। महिलाओं की चीख-पुकार के बीच गवर्नर वापस गेस्ट हाउस चली गईं।

गौरतलब है कि राज्यपाल तमिलिसाई बाढ़ पीड़ितों से मिलने के लिए ट्रेन से मनुगुरु पहुंची। इस अवसर पर कोत्तागुडेम आदिवासी कल्याण की डीडी रामादेवी और आरडीओ स्वर्णलता ने फूलों का गुलदस्ता देकर राज्यपाल का स्वागत किया। एएसपी केआरके प्रसाद राव के नेतृत्व में राज्यपाल के लिए भारी बंदोबस्त किया था।

यह भी पढ़ें :

दूसरी ओर बाढ़ के बाद की स्थिति की समीक्षा करने के लिए मुख्यमंत्री केसीआर सड़क मार्ग से भद्राचलम पहुंचे। इस अवसर पर मंत्री पुव्वाडा अजय कुमार और सांसदों ने सीएम केसीआर का गर्मजोशी से स्वागत किया। केसीआर ने गोदावरी पुल से आसपास के इलाकों का निरीक्षण किया। अधिकारियों से बाढ़ की स्थिति और जिला प्रशासन द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी ली।

तत्पश्चात मुख्यमंत्री ने उग्र रूप धारण कर बह रही गोदावरी नदी की शांति पूजा की। इसके बाद सीएम केसीआर बाढ़ की स्थिति को लेकर अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री केसीआर सुबह हनुमाकोंडा से सड़क मार्ग से रवाना हुए और एटुरु नगरम होते हुए भद्राचलम पहुंचे। बाढ़ और जलमग्न इलाकों का जायजा लेने के लिए केसीआर दौरा किया। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार हेलीकॉप्टर में हवाई सर्वेक्षण किया जाना था, मगर प्रतिकूल मौसम की पृष्ठभूमि में वे सड़क मार्ग से रवाना हो गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X