आंध्र प्रदेश को एक बार फिर भंयकर तूफान का खतरा, सतर्क और सावधानी बरतने की दी गई सलाह

अमरावती/हैदराबाद: एक बार फिर आंध्र प्रदेश को भंयकर तूफान का खतरा बना हुआ है। पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी में बना निम्न दबाव का क्षेत्र शुक्रवार सुबह तूफान में बदल गया। यह तूफान शुक्रवार की शाम को पूरी से 590 किमी और कलिंगपटणम से 740 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व में केंद्रीत है। मौसम विभाग ने बताया है कि यह तूफान शनिवार तक चक्रवात और रविवार तक यह भयंकर तूफान में बदल जाएगा।

इसके चलते अगले 24 घंटों में यह तूफान दक्षिणी ओडिशा में गोपालपुर और उत्तरी तट पर विशाखापट्टणम के बीच पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा। यह कलिंगपटणम के पास तट को पार करेगा। इसके के कारण अधिकारियों ने लोगों को भी सतर्क और सावधान रहने की सलाह दी है।

अधिकारियों ने यह भी बताया कि आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटीय जिलों में हल्की से मध्यम वर्षा होगी। रविवार को उत्तरी तटीय और दक्षिणी ओडिशा के अधिकांश हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होगी। कुछ इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। तेलंगाना और छत्तीसगढ़ में भी भारी बारिश की आशंका है। सोमवार को छत्तीसगढ़, ओडिशा और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है।

केवल आंध्र प्रदेश की बात करें तो श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापट्टणम और दोनों गोदावरी जिलों में रविवार को मध्यम से भारी बारिश होगी। रायलसीमा, कृष्णा और गुंटूर जिलों में रविवार को हल्की से मध्यम बारिश होगी।

इसी क्रम में सोमवार को श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापट्टणम और दोनों गोदावरी जिलों में सोमवार को छिटपुट बारिश बारिश होगी। रायलसीमा, कृष्णा और गुंटूर जिलों में हल्की बारिश की संभावना है। आपदा प्रबंधन आयुक्त के कन्नबाबू ने मछुआरों को समुद्र में न जाने और लोगों को सतर्क रहने और उचित सावधानी बरतने की सलाह दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X