डॉलर शेषाद्रि निधन से बहुत दुख हुआ, भगवान विष्णु के दिल में स्थान हासिल करेंं: स्वरूपानंदेंद्र स्वामी

अमरावती: विशाखापट्टण शारदा पीठ के अध्यक्ष स्वरूपानंदेंद्र स्वामी ने कहा कि तिरुमला तिरुपति देवस्थान के ओएसडी डॉलर शेषाद्री के अचानक निधन से बहुत दुख हुआ है। उन्होंने कहा कि शेषाद्री को भगवान बालाजी के चरणों में अधिक समय तक रहने का सौभाग्य हासिल हुआ है।

डॉलर शेषाद्री के बारे में कहा जाता है कि भगवान बालाजी के दर्शन करने जाने वाले अधिकतर श्रद्धालु शेषाद्री को जानते है। विशाखापट्टण श्री शारदा पीठ के साथ डॉलर शेषाद्री का गहरा संबंध है। ऐसे भगवान बालाजी के भक्त डॉलर शेषाद्रि भगवान विष्णु के दिल में स्थान हासिल करे ऐसी अपेक्षा है।

आपको बता दें कि तिरुमला तिरुपति देवस्थान (टीटीडी) के ओएसडी डॉलर शेषाद्री (75) का निधन हो गया। सोमवार को अलसुबह विशाखापट्टणम आयोजित कार्तिक दीपोत्सव कार्यक्रम में भाग लेने के लिए गये थे। इसी क्रम में शेषाद्री को दिल का दौरा पड़ा। यह देख उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जांच करने वाले डॉक्टरों ने डॉलर शेषाद्री को मृत घोषित किया।

इससे पहले भी शेषाद्री को दो-तीन बार इसी तरह दिल का दौरा पड़ा था। तब तिरुपति के स्विम्स में उनका इलाज किया गया। इसके बाद अच्छी चिकित्सा के लिए हैदराबाद के अपोलो अस्पताल ले गये। ताजा एक बार फिर दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।

शेषाद्री साल 1978 से भगवाल बालाजी की सेवा में लगे हैं। साल 2007 में सेवानिवृत्त हो गये। मगर उनकी अपार सेवा को ध्यान में रखते हुए सरकार ने उन्हें ओएसडी नियुक्त किया। इसके चलते सेवानिृत्त के बाद भी वे भगवान बालाजी की सेवा में है। शेषाद्री के निधन पर अनेक लोगों ने गहरा शोक व्यक्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

'तेलंगाना समाचार' में आपके विज्ञापन के लिए संपर्क करें

X